LOVE SHAYRI

एक सुकून सा मिलता है….तुझे सोचने से भी….

फिर कैसे कह दूँ…मेरा इश्क़ बेवजह सा है…

Likes

Comments

  • लिख दूँ तो लफज़ तुम हो ,
    सोच लूँ तो ख्याल तुम हो ,
    माँग लूँ तो मन्नत तुम हो ,
    और चाह लूँ तो मोहब्बत भी तुम ही हो।
  • बहुत दिनों बाद तेरी महफ़िल में कदम रखा है ,
    मगर नजरो से सलामी देने का तेरा अंदाज़ नही बदला

Likes

Comments